Home / हिंदी / वैश्विक आतंकवाद और भारतीय उपमहाद्वीप के मुसलमान !

वैश्विक आतंकवाद और भारतीय उपमहाद्वीप के मुसलमान !

आजकल भारत में एक नया चोचला शुरू हुआ है की भारतीय उपमहाद्वीप के मुसलमानो द्वारा किये गए आतंकी हमले के लिए वहाबियो को जिम्मेदार ठहरा दो, और वहाबियो को गाली दो ! आसान भाषा में कहे तो ये मानना की भारतीय उपमहाद्वीप में मुसलमान तो बड़े ही इनोसेंट ,दयालु,शांतिप्रिय थे, वहाबियो ने उन्हें भड़का दिया है और इसी वजह से वो आतंकी बन रहे हो ! और ऐसा कहने वाले कोई और नहीं बल्कि वही लोग है जो खुद के राइट विंग का बताते है ! अब ये लोग ऐसा क्यों कहते है , पोलटिकल करेक्टनेस? या डर ? क्यूंकि तथ्य कुछ और ही है !

1) मुस्लिम लीग की स्थापना , फिर देश का बंटवारा और उसके बाद लाखो हिन्दुओ का क़त्ल और बलात्कार वहाबियो ने नहीं किया था, इसी देश के मुसलमानो ने किया था!
2) नोआखाली का नरसंहार इसी देश के मुसलमानो ने किया था !
3) कश्मीर में पांच लाख हिन्दुओ की हत्या, मस्जिदों में बलात्कार और उन्हें अपने घर छोड़ के जाने के लिए मजबूर भी इसी देश के मुसलमानो ने किया था !
4) गोधरा में बच्चो, बुड्ढ़ो,और महिलाओ सहित ट्रैन को भी इसी देश के मुसलमानो ने ही जलाया था !
5) आज़ाद मैदान में पुलिसकर्मियो के कपडे , मालदा में इस तरह का आतंक भी यही के मुसलमानो ने किया !
6) १९७० में भारतीय उपमहाद्वीप के मुसलमानो ने बंगलदेश में तीस लाख हत्याएं की थी और करीब ३ लाख औरतो का बलात्कार किया था !
7)तस्लीमा नसरीन की किताब पढ़े तो और समझ में आएगा की इन्ही मुसलमानो ने ये सब किया था!

इनको हिन्दुओ, सिक्खो की हत्या और बलात्कार करने के कहने कोई वहाबी नहीं आया था ये सब यही के थे और यही इन्होने ये जिहाद किया ! तो आज के बुद्धिजीवी इस जहालत का जड़ वहाबियो में क्यों ढूंढ रहे है !

असल में दिक्कत इस्लाम की है चाहे वो सुन्नी, शिया, अहमेदिअ, सूफी हो या वहाबी है , इस्लाम के मूल चरित्र ही ऐसा है जो की हम पिछले चौदह सौ सालो से हिंदुस्तान और दुनिया के अन्य हिस्सों में देख रहे है ! मेरा मानना है की वहाबी अपेक्षाकृत शांति प्रिय है ! लेकिन आज दुनिया को खत्तरा सबसे ज्यादा खतरा भारतीय उपमहाद्वीप के मुसलमानो से है अरब से नहीं !

इसकी वजह क्या है ? सीधी बात है , हिंदुस्तान को छोड़ के दुनिया में इस्लाम जंहा भी गया पूरा बीस सालो में कन्वर्ट कर दिया ! सिर्फ हिंदुस्तान ही ऐसा एक उदहारण है की ८०० सालो के प्रत्यक्ष और बाद के अप्रत्यक्ष शाशन के बाद भी हमें पूरा कन्वर्ट नहीं कर पाया ! मुग़ल काल और उसके आगे पीछे के काल खंड में जबरदस्ती धर्मान्तरण का इतिहास सबको पता है , तो आज का जो भी भारतीय,पाकिस्तान या बांग्लदेश मुस्लमान है उसे पता है की वो मुस्लिम कैसे हत्या ,बलात्कार द्वारा तलवार के जोर पे बने और औरो को बनाया ! अब यहाँ आता है मनोविज्ञान जब बलात्कार का पैदाइश मुस्लमान एक हिन्दू या सिख को सर उठा के घूमते देखता है आज के समय में तो उसे आत्मग्लानि होती है ,उसके अंदर हीनभावना आती है और मन ही मन अपने पूर्वजो को गाली देता है ! इससे निकलने के दो रास्ते है उसके पास एक तो वो घर वापसी करे और अपने पूर्वजो के हत्यारे और बलात्कारियो की पूजा करना छोड़ दे या तो बाकी सबको अपने जैसा बना दे ,दुर्भाग्य से उन्होंने दूसरा रास्ता चुन लिया है , और इसीलिए उनका ये आतंकवाद तब तक चलेगा जब तक भारतीय उपमहाद्वीप में एक भी नॉन मुस्लिम रहेगा !

इसका कोई उपाय नहीं !

हमें लड़ना ही होगा जैसे हम 15०० सालो से लड़ते आ रहे है , वो चाहते है उनकी तरह हम भी बन जाए ताकि उनके कायरता का याद दिलाने वाला कोई न रहे ! लेकिन ऐसा हुआ नहीं है , ऐसा होगा नहीं ! तो आज के परिपेक्ष्य में हमें ये संजना होगा की खतरा वहाबियो से नहीं ,खतरा अरबो से नहीं , खतरा आपको अपने पड़ोसियों से है , आज हिंदुस्तान ,पाकिस्तान और बांग्लादेश के सबसे ज्यादा आतंकवादी है जिन्हे दुनिया भर में आतंक का नंगा नाच किया हुआ है ! तो प्रधान मंत्री जी इनको अपिज करके इनका दिल जित नहीं सकते है आप, इनको ख़तम करना ही एकमात्र उपाय है !

Comments

About Vikas R S Giri

Vikas R S Giri
Vikas R S Giri is an educationalist, teaches physics to Senior secondary, and believes in आत्मरक्षा हिंसा नही !

Check Also

महिला सुरक्षा की बात करने वाली कांग्रेस बलात्कारी को लड़ा रही है चुनाव

किसी भी स्वस्थ लोकतंत्र के जागरूक नागरिकों को चाहिए कि वह चुनावों से पहले भावनात्मक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Postman,Postman News,Postmannews,Piyush Goyal education,Suresh Prabhu education